Any Kind of Jobs & Exams related Information's With Complete Study Material

Home / UTTAR PRADESH / मई, 2020 में आठ कोर उद्योगों का सूचकांक

मई, 2020 में आठ कोर उद्योगों का सूचकांक

उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग के आर्थिक सलाहकार कार्यालय ने मई, 2020 के लिए आठ कोर उद्योगों का सूचकांक जारी किया है।

मई 2020 में आठ कोर उद्योगों के सूचकांक की वृद्धि दर में 23.4% (अनंतिम) की गिरावट दर्ज की गई, जबकि पिछले महीने यानी अप्रैल 2020 में इसमें 37 प्रतिशत (अनंतिम) की गिरावट आंकी गई थी। इनकी संचयी वृद्धि दर अप्रैल-मई, 2020-21 के दौरान -30.0 प्रतिशत थी।

कोविड-19 महामारी के कारण अप्रैल और मई 2020 के दौरान किए गए देशव्यापी लॉकडाउन के मद्देनजर कोयला, सीमेंट, स्टील, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी, क्रूड ऑयल जैसे उद्योगों को उत्पादन में भारी नुकसान उठाना पड़ा।

फरवरी, 2020 में आठ कोर उद्योगों के सूचकांक की अंतिम वृद्धि दर को संशोधित कर 6.4% कर दिया गया है।

औद्योगिक उत्‍पादन सूचकांक (आईआईपी) में शामिल वस्तुओं के कुल भारांक (वेटेज) का 40.27 प्रतिशत हिस्सा आठ कोर उद्योगों में ही निहित होता है। वार्षिक/मासिक सूचकांक और वृद्धि दर का विवरण अनुलग्नक में दिया गया है।

आठ कोर उद्योगों (कुल मिलाकर) के सूचकांक की मासिक वृद्धि दरों को ग्राफ में दर्शाया गया है:

Description: http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image001P0E1.png

आठ कोर उद्योगों के सूचकांक का सार नीचे दिया गया है:

कोयला

मई, 2020 में कोयला उत्‍पादन (भारांक: 10.33%) मई, 2019 के मुकाबले 14.0 प्रतिशत गिर गया। वर्ष 2020-21 की अप्रैल-मई अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में 14.7 प्रतिशत गिर गया।

कच्‍चा तेल

मई, 2020 के दौरान कच्‍चे तेल का उत्‍पादन (भारांक: 8.98%) मई, 2019 की तुलना में 7.1 प्रतिशत गिर गया। वर्ष 2020-21 की अप्रैल-मई अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक बीते वित्‍त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 6.7 प्रतिशत कम रहा।

प्राकृतिक गैस

मई, 2020 में प्राकृतिक गैस का उत्‍पादन (भारांक: 6.88%) मई, 2019 के मुकाबले 16.8 प्रतिशत गिर गया। वर्ष 2020-21 की अप्रैल-मई अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 18.3 प्रतिशत घट गया।

रिफाइनरी उत्‍पाद

पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्‍पादों का उत्‍पादन (भारांक: 28.04%) मई, 2020 में 21.3 प्रतिशत घट गया। वहीं, वर्ष 2020-21 की अप्रैल-मई अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 22.7 प्रतिशत कम रहा।

उर्वरक

मई, 2020 के दौरान उर्वरक उत्‍पादन (भारांक: 2.63%) 7.5 प्रतिशत बढ़ गया। उधर, वर्ष 2020-21 की अप्रैल-मई अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक बीते वित्‍त वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 2.0 प्रतिशत अधिक रहा।  

इस्‍पात

मई, 2020 में इस्‍पात उत्‍पादन (भारांक: 17.92%) 48.4 प्रतिशत घट गया। वर्ष 2020-21 की अप्रैल-मई अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 63.3 प्रतिशत कम रहा।

सीमेंट

मई, 2020 के दौरान सीमेंट उत्‍पादन (भारांक: 5.37%) मई, 2019 के मुकाबले 22.2 प्रतिशत घट गया। वर्ष 2020-21 की अप्रैल-मई अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक बीते वित्‍त वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 54.1 प्रतिशत कम रहा।

बिजली

मई, 2020 के दौरान बिजली उत्‍पादन (भारांक: 19.85%) मई, 2019 के मुकाबले 15.6 प्रतिशत घट गया। वर्ष 2020-21 की अप्रैल-मई अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 19.1 प्रतिशत कम रहा।

error: Content is protected !!